भारत और एशिया के सबसे बड़े रईस मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) से जियो फाइनेंशियल सर्विसेज (Jio Financial Services) का डीमर्जर होने जा रहा है। इसके लिए 20 जुलाई रेकॉर्ड डेट तय की गई है।

इसे रिलायंस इंडस्ट्रीज के इन्वेस्टर्स के लिए विंडफॉल गेन माना जा रहा है। इसकी वजह यह है कि उन्हें रिलायंस के प्रत्येक शेयर पर जीएफएसएल का एक शेयर मिलेगा। यही वजह है कि पिछले कुछ दिनों से रिलायंस के शेयरों को खरीदने के लिए काफी मारामारी चल रही है। मंगलवार को भी यह 0.93 परसेंट की तेजी के साथ 2822.40 रुपये पर बंद हुआ।

जेएफएसएल का शेयर पाने के लिए आपको 20 जुलाई की रेकॉर्ड डेट से पहले रिलायंस का शेयरहोल्डर बनना होगा। यानी आपको 19 जुलाई तक शेयर खरीदना होगा। मतलब आपके पास केवल एक दिन रह गया है। इससे रिलायंस के 36 लाख से अधिक इन्वेस्टर्स को फायदा होगा।

एक्सिस सिक्योरिटीज की ईशा शाह ने कहा कि निवेशकों को रेकॉर्ड डेट से पहले रिलायंस का शेयर खरीद लेना चाहिए। यह जियो फाइनेंशियल सर्विसेज का शेयर पाने का सबसे सस्ता तरीका है। यह शेयर 160 रुपये प्रति शेयर के हिसाब से लिस्ट हो सकता है।

ईशा अंबानी इस कंपनी की नॉन-एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर होंगी जबकि आईसीआईसीआई के एग्जीक्यूटिव रहे हितेश सेठिया को इसका सीईओ और एमडी बनाया गया है। यह कंपनी एनबीएफसी मार्केट और क्रेडिट मार्केट सेगमेंट्स पर फोकस करेगी। इसकी इंश्योरेंस, डिजिटल पेमेंट और एसेट मैनेजमेंट वर्टिकल में उतरने की योजना है।

डोमेस्टिक ब्रोकरेज Nuvama ने जेएफएसएल की वैल्यू एक लाख करोड़ रुपये आंकी है। उसका कहना है कि इस डीमर्जर से रिलायंस के शेयर पर ज्यादा असर नहीं होगा बल्कि यह तीन से पांच परसेंट तक ऊपर जा सकता है। एनएसई और बीएसई 20 जुलाई को सुबह नौ से 10 बजे तक रिलायंस के शेयरों के लिए स्पेशल प्राइस डिस्कवरी सेशन रखेगी।

कहां तक जाएगा रिलायंस का शेयर

दो हफ्ते में रिलायंस का शेयर नौ परसेंट उछला है। जानकारों का कहना है कि अगले कुछ दिन में यह 2856.15 रुपये के ऑल टाइम हाई को पार कर जाएगा। नुवामा ने इसके लिए टारगेट प्राइस 3,205 रुपये रखा है। जेएफएसएल को दिवाली से पहले लिस्ट किया जा सकता है।